Pyar Bhari Shayari

September 2, 2022
166
Views

Love is a beautiful thing, and what better way to express your love than with some pyar bhari shayari? Pyar bhari shayari is Hindi for “love-filled poetry,” and it’s the perfect way to show your special someone how much you care. These poems are often filled with romantic and poetic language, making them ideal for expressing your deepest emotions. So if you’re looking for a way to show your partner how much you love them, consider sending them some pyar bhari shayari.

Love pyar bhari shayari is a beautiful way to express your love for someone. It is a form of poetry that is written in Hindi, and it can be used to express any type of love, whether it is platonic, romantic, or familial. There are many different types of love pyar bhari shayari, but they all have one goal: to express the speaker’s love for another person.

दिल को था आपका बेसबरी से इंतजार!
पलके भी थी आपकी एक झलक को बेकरार!
आपके आने से आयी है कुछ ऐसी बहार!
कि दिल बस मांगे आपके लिये खुशियाँ बेशुमार!

pyar bhari shayari, romantic pyar bhari shayari

रुठने मनाने के सिलसिले को ख़त्म कर देते हैं,
एक दूजे के जज़्बात अपने दिलों से भांप लेते हैं,
ना मिलने की खुशियाँ हो न गम हो बिछड़ने के,
चलो कुछ अपनों के दिलों की सच्चाई नाप लेते हैं !!!

वजह पूछोगे तो सारी उम्र गुजर जाएगी…
कहा ना अच्छे लगते हो तो,बस लगते हो….!

कुछ नशा तेरी बात का है,
कुछ नशा धीमी बरसात का है,
हमे तुम यूँही पागल मत समझो,
ये दिल पर असर पहली मुलाकात का है!!!

अय दिल ये तूने कैसा रोग लिया,
मैंने अपनों को भुलाकर,
एक गैर को अपना मान लिया !!!

pyar bhari shayari, romantic pyar bhari shayari

गम ने हसने न दिया, ज़माने ने रोने न दिया!
इस उलझन ने चैन से जीने न दिया!
थक के जब सितारों से पनाह ली!
नींद आई तो तेरी याद ने सोने न दिया!

भूल जाए तुमको कोई इरादा नहीं हैं,
तेरे सिवा किसी और से वादा नहीं नहीं हैं,
निकाल देते दिल से शायद तुमको….
मगर इस नादान दिल में दरवाजा नहीं हैं।

इश्क मुहब्बत तो सब करते हैं!
गम – ऐ – जुदाई से सब डरते हैं
हम तो न इश्क करते हैं न मुहब्बत!
हम तो बस आपकी एक मुस्कुराहट
पाने के लिए तरसते हैं!

प्यार,,,,प्यार भी कभी पूरा होता है?
इसका तो पहला अक्षर ही अधूरा होता है.

दिल का क्या कसूर होता है,
कसूर तो आँखो का होता है
प्यार आँखो से होता है,
और दर्द दिल को होता है.

pyar bhari shayari, romantic pyar bhari shayari

कभी किसी से प्यार मत करना!
हो जाये तो इंकार मत करना!
चल सको तो चलना उस राह पर!
वरना किसी की ज़िन्दगी ख़राब मत करना!

वो वक़्त वो लम्हे कुछ अजीब होंगे!
दुनिया में हम खुश नसीब होंगे!
दूर से जब इतना याद करते है आपको!
क्या होगा जब आप हमारे करीब होंगे?

किस्मत से अपनी सबको शिकायत क्यों है?
जो नहीं मिल सकता उसी से मुहब्बत क्यों है?
कितने खायें है धोखे इन राहों में!
फिर भी दिल को उसी का इंतजार क्यों है !!!

pyar bhari shayari, romantic pyar bhari shayari

प्यार कमजोर दिल से किया नहीं जा सकता!
ज़हर दुश्मन से लिया नहीं जा सकता!
दिल में बसी है उल्फत जिस प्यार की!
उस के बिना जिया नहीं जा सकता!

जब कोई ख्याल दिल से टकराता है!
दिल न चाह कर भी, खामोश रह जाता है!
कोई सब कुछ कहकर, प्यार जताता है!
कोई कुछ न कहकर भी, सब बोल जाता है!

मुहब्बत का इम्तिहान आसान नहीं!
प्यार सिर्फ पाने का नाम नहीं!
मुद्दतें बीत जाती हैं किसी के इंतज़ार में!
ये सिर्फ पल-दो-पल का काम नहीं!

pyar bhari shayari, romantic pyar bhari shayari

कोई कहता है प्यार नशा बन जाता है!
कोई कहता है प्यार सज़ा बन जाता है!
पर प्यार करो अगर सच्चे दिल से, तो वो प्यार ही जीने की वजह बन जाता है

हम रूठे तो किसके भरोसे, कौन आएगा हमें मनाने के लिए;
हो सकता है, तरस आ भी जाए आपको;
पर दिल कहाँ से लाये, आप से रूठ जाने के लिए!

कोई छुपाता है, कोई बताता है;
कोई रुलाता है, तो कोई हंसाता है;
प्यार तो हर किसी को ही किसी न किसी से हो जाता है;
फर्क तो इतना है कि कोई अजमाता है और कोई निभाता है!

AlsoRead-I Love You

pyar bhari shayari, romantic pyar bhari shayari

वफ़ा का लाज हम वफा से निभायेगें;
चाहत के दीप हम आँखों से जलाएंगे;
कभी जो गुजरना हो तुम्हें दूसरे रास्तों से;
हम फूल बनकर तेरी राहों में बिखर जायेंगे!

जो दिल से करीब हो उसे रुसवा नहीं कहते;
यूं अपनी मोहब्बत का तमाशा नहीं करते;
खामोश रहेंगे तो घुटन और बढ़ेगी;
इसलिए अपनों से कोई बात छुपाया नहीं करते!

आँखों में आंसुओं की लकीर बन गई;
जैसी चाहिए थी वैसी तकदीर बन गई;
हमने तो सिर्फ रेत में उंगलियाँ घुमाई थी;
गौर से देखा तो आपकी तस्वीर बन गई!

इश्क है वही जो हो एक तरफा;
इजहार है इश्क तो ख्वाईश बन जाती है;
है अगर इश्क तो आँखों में दिखाओ;
जुबां खोलने से ये नुमाइश बन जाती है।

चुपके से आकर इस दिल में उतर जाते हो;
सांसों में मेरी खुशबु बन के बिखर जाते हो;
कुछ यूँ चला है तेरे ‘इश्क’ का जादू;
सोते-जागते तुम ही तुम नज़र आते हो।

pyar bhari shayari, romantic pyar bhari shayari

कोई चाँद से मोहब्बत करता है;
कोई सूरज से मोहब्बत करता है;
हम उनसे मोहब्बत करते हैं;
जो हमसे मोहब्बत करते हैं।

जब भी उनकी गली से गुज़रता हूँ;
मेरी आंखें एक दस्तक दे देती हैं;
दुःख ये नहीं, वो दरवाजा बंद कर देते हैं;
खुशी ये है, वो मुझे अब भी पहचान लेते हैं!

सब कुछ है मेरे पास पर दिल की दवा नहीं;
दूर वो मुझसे हैं पर मैं खफा नहीं;
मालूम है अब भी वो प्यार करते हैं मुझसे;
वो थोड़ा सा जिद्दी है, मगर बेवफा नहीं!

बहते अश्कों की ज़ुबान नहीं होती;
लफ़्ज़ों में मोहब्बत बयां नही होती;
मिले जो प्यार तो कदर करना;
किस्मत हर कीसी पर मेहरबां नहीं होती।

pyar bhari shayari, romantic pyar bhari shayari

दिल में प्यार का आगाज हुआ करता है;
बातें करने का अंदाज हुआ करता है;
जब तक दिल को ठोकर नहीं लगती;
सबको अपने प्यार पर नाज हुआ करता है!

दिल की किताब में गुलाब उनका था;
रात की नींदों में ख्वाब उनका था;
कितना प्यार करते हो जब हमने पूछा;
मर जायेंगे तुम्हारे बिना यह जवाब उनका था।

कुछ चेहरे भुलाए नहीं जाते;
कुछ नाम दिल से मिटाए नहीं जाते;
मुलाक़ात हो न हो, अय मेरे यार;
प्यार के चिराग कभी बुझाए नहीं जाते।

कुछ सोचूं तो तेरा ख्याल आ जाता है;
कुछ बोलूं तो तेरा नाम आ जाता है;
कब तलक बयाँ करूँ दिल की बात;
हर सांस में अब तेरा एहसास आ जाता है।

pyar bhari shayari, romantic pyar bhari shayari

हर बार दिल से ये पैगाम आए;
ज़ुबाँ खोलूं तो तेरा ही नाम आए;
तुम ही क्यूँ भाए दिल को क्या मालूम;
जब नज़रों के सामने हसीन तमाम आए|

हर खामोशी का मतलब इंकार नहीं होता;
हर नाकामयाबी का मतलब हार नहीं होता;
तो क्या हुआ अगर हम तुम्हें न पा सके;
सिर्फ पाने का मतलब प्यार नहीं होता!

दिलों की जरुरत कोई क्या समझेगा;
रिश्तों की अहमियत कोई क्या समझेगा;
तेरी मुस्कान ही है मेरी ख़ुशी;
इस ख़ुशी की कीमत कोई क्या समझेगा!

pyar bhari shayari, romantic pyar bhari shayari

धूरे मिलन की आस हैं जिंदगी,
सुख-दुःख का एहसास हैं जिंदगी,
फुरसत मिले तो ख्वाबो में आया करो,
आप के बिना बड़ी उदास हैं जिंदगी “

मारी गलतियों से कही टूट न जाना,
हमारी शरारत से कही रूठ न जाना,
तुम्हारी चाहत ही हमारी जिंदगी हैं,
इस प्यारे से बंधन को भूल न जाना.

“उसकी याद हमें बेचैन बना जाती हैं,
हर जगह हमें उसकी सूरत नज़र आती हैं,
कैसा हाल किया हैं मेरा आपके प्यार ने,
नींद भी आती हैं तो आँखे बुरा मान जाती हैं.”

“हर वक्त मुस्कुराना फिदरत हैं हमारी,
आप यूँ ही खुश रहे हसरत हैं हमारी,
आपको हम याद आये या ना आये,
आपको याद करना आदत हैं हमारी.”

pyar bhari shayari, romantic pyar bhari shayari

दिन तेरे ख़याल में गुजर जाता हैं,
रातों को भी ख़याल तेरा ही आता हैं,
कभी ये ख़याल इस तरह बढ़ जाता है की,
आयने में भी तेरा ही चेहरा नज़र आता हैं.”

“उनका हाल भी कुछ आप जैसा ही होगा,
आपका हाले दिल उन्हें भी महसूस होगा,
बेकरारी के आग में जो जल रहे हैं आप,
आपसे ज्यादा उन्हें इस जलन का एहसास होगा.”

वो वक्त वो लम्हे अजीब होंगे,
दुनियाँ में हम खुश नशीब होंगे,
दूर से जब इतना याद करते हैं आपको,
क्या हाल होगा जब आप हमारे करीब होगे.”

आदत बदल दू कैसे तेरे इंतेज़ार की,
ये बात अब नही है मेरे इकतियार की,
देखा भी नही तुझ को फिर भी याद करते है,
बस ऐसी ही खुश्बू है दिल मे तेरे प्यार की।

pyar bhari shayari, romantic pyar bhari shayari

प्यार तो ज़िन्दगी को सजाने के लिए है,
पर ज़िन्दगी बस दर्द बहाने के लिए है,
मेरे अंदर की उदासी काश कोई पढ़ ले,
ये हँसता हुआ चेहरा तो ज़माने के लिए है।

ज़िंदगी से अपना हर दर्द छुपा लेना,
ख़ुशी न सही गम गले लगा लेना,
कोई अगर कहे मोहब्बत आसान है,
तो उसे मेरा टूटा हुआ दिल दिखा देना।

इंतेज़ार रहता है हर शाम तेरा,
रातें काट ते है ले ले के नाम तेरा,
मुद्दत से बैठी हू ये आस पाले,
शायद अब आ जाए कोई पैगाम तेरा।

परछाई आपकी हमारे दिल में है,
यादे आपकी हमारी आँखों में है,
कैसे भुलाये हम आपको,
प्यार आपका हमारी साँसों में है।

pyar bhari shayari, romantic pyar bhari shayari

हम जुदा हुए थे फिर मिलने के लिये,
ज़िंदगी की राहों में संग चलने के लिये,
तेरे प्यार की कशिश दिल में बसी है कुछ ईस क़दर,
दुआ है तेरा साथ मिले ज़रा संभलने के लिये।

दिल मैं हर राज़ दबा कर रखते है,
होंटो पर मुस्कराहट सजाकर रखते है,
ये दुनिया सिर्फ़ खुशी मैं साथ देती है,
इसलिए हम अपने आँसुओ को छुपा कर रखते है।

बहुत उदास है कोई शख्स तेरे जाने से,
हो सके तो लौट आ किसी बहाने से,
तू लाख खफा सही मगर एक बार तो
देख कोई टूट गया है तेरे जाने से।

pyar bhari shayari, romantic pyar bhari shayari

चाँद तारे ज़मीन पर लाने की ज़िद थी,
हमें उनको अपना बनाने की ज़िद थी,
अच्छा हुआ वो पहले ही हो गयी बेवफा,
वरना उन्हे पाने को ज़माना जलाने की ज़िद थी।

तुम्हारे प्यार की दास्तां हमने अपने दिल में लिखी है,
न थोड़ी न बहुत बे-हिसाब लिखी है,
किया करो कभी हमे भी अपनी दुआओं में शामिल,
हमने अपनी हर एक सांस तुम्हारे नाम लिखी है।

सिलसिला उल्फत का चलता ही रह गया,
दिल चाह में दिलबर के मचलता ही रह गया,
कुछ देर को जल के शमां खामोश हो गई,
परवाना मगर सदियों तक जलता ही रह गया।

pyar bhari shayari, romantic pyar bhari shayari

एहसास के दामन में आंसू गिराकर देखो,
प्यार कितना है आजमा कर देखो,
तुम्हें भूल कर क्या होगी दिल की हालत,
किसी आईने पे पत्थर गिराकर तो देखो।

न हम रहे दिल लगाने काबिल,
ना दिल रहा गम उठाने काबिल,
लगे उसकी यादों के जो ज़ख़्म दिल पर,
न छोड़ा उसने मुस्कुराने के काबिल।

छूट गया जो साथ तेरा मुझसे,
रूठ गया है अपना ही दिल मुझसे,
कितनी तकलीफ कितना दर्द है तेरे जाने का,
एक बार मुड़ के देख क्या हल हो गया है तेरे दीवाने।

हर भूल तेरी माफ़ की,
हर खता को तेरी भुला दिया,
गम है कि, मेरे प्यार का, तूने बेवफा बनके सिला दिया।

pyar bhari shayari, romantic pyar bhari shayari

ना दूर हमसे जाया करो, दिल तड़प जाता है,
आपके ख्यालों में ही हमारा दिन गुज़र जाता है,
पूछता है यह दिल एक सवाल आपसे,
कि क्या दूर रहकर भी आपको हमारा ख्याल आता है।

लोग प्यार दिल से नहीं चेहरे से करते है,
वो दिल पे नहीं सुंदरता पे मरते है,
हम सुन्दर नहीं पर दिल के साफ़ है,
इसीलिए बहुत कम लोग हमें पसंद करते है।

लाजवाब है मेरी जिंदगी का फसाना,
कोई सीखे मुझसे हर पल मुस्कुराना,
पर कोई मेरी हंसी को नजर न लगाना,
बहुत दर्द सहकर सीखा है हम ने मुस्कुराना।

pyar bhari shayari, romantic pyar bhari shayari

आप से दूर हो कर हम जायेंगे कहा,
आप जैसा दोस्त हम पाएंगे कहा,
दिल को कैसे भी संभाल लेंगे,
पर आँखों के आंसू हम छुपायेंगे कहा।

ठोकर ना लगा मुझे पत्थर नही हूँ मैं,
हैरत से ना देख कोई मंज़र नही हूँ मैं,
उनकी नज़र में मेरी कदर कुछ भी नही,
मगर उनसे पूछो जिन्हें हासिल नही हूँ मैं।

उल्फत का अक्सर यही दस्तूर होता है,
जिसे चाहो वही अपने से दूर होता है,
दिल टूटकर बिखरता है इस कदर,
जैसे कोई कांच का खिलौना चूर-चूर होता है।

आँखों की गहराई को समझ नही सकते,
होंटो से कुछ कह नही सकते,
कैसे बया करे हम आपको यह दिल का हाल की,
तुम्ही हो जिसके बगैर हम रह नही सकते।

Article Categories:
Hindi · Shayari

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *