350+ Dard Bhari Shayari

August 5, 2022
282
Views

There are many different types of dard bhari shayari, each with its own unique style and message. Some of these shayari focus on the pain of love, while others focus on the pain of life in general. No matter what type of dard bhari shayari you’re looking for, there’s sure to be something out there that will speak to you. Whether you’re looking for something heart-wrenching or simply reflective, there’s a dard bhari shayari out there for you.

Dard bhari shayari is a genre of poetry that often deals with the pain and anguish of love. These poems can be incredibly moving and soulful, as they explore the deep emotions that come with heartbreak. Many dard bhari shayari poems are written in Urdu, but they can also be found in Hindi and other languages. If you’re looking for a way to express your pain, or simply want to read some beautiful poetry, dard bhari shayari is definitely worth checking out.

Dard Bhari Shayari

रोते रहे तुम भी, रोते रहे हम भी;
कहते रहे तुम भी और कहते रहे हम भी;
ना जाने इस ज़माने को हमारे इश्क़ से क्या नाराज़गी थी;
बस समझाते रहे तुम भी और समझाते रहे हम भी।

अकेले ही गुजारनी पड़ती है ज़िन्दगी,
और तसलियाँ देते है जीना..!!

Dard Bhari Shayari

ज़रा सी ज़िंदगी है, अरमान बहुत हैं;
हमदर्द नहीं कोई, इंसान बहुत हैं;
दिल के दर्द सुनाएं तो किसको;
जो दिल के करीब है, वो अनजान बहुत है!

Zindagi Dard Bhari Shayari

होंटो की हकीकत को न सज्म हकीहत,
दिल मैं उतर के देख कितने टूटे है हम..!!

Also Read-Bewafa Shayari

Dard Bhari Shayari

दिल की हालात बताई नहीं जाती;
हमसे उनकी चाहत छुपाई नहीं जाती;
बस एक याद बची है उनके चले जाने के बाद;
हमसे तो वो याद भी दिल से निकाली नहीं जाती।

वो जिनको देख कर आँखों में आसूं जाते है,
वहीं कुछ लोग ज़िन्दगी वीरान कर जाते है..!!

Dard Bhari Shayari

जहाँ खामोश फिजा थी, साया भी न था;
हमसा कोई किस जुर्म में आया भी न था!
न जाने क्यों छिनी गई हमसे हंसी;
हमने तो किसी का दिल दुखाया भी न था!

Zindagi Dard Bhari Shayari

हकीकत बयां करू तो मैं उसके इन्तजार में हूँ,
पर क्या करू मैं नए रिश्तो की दीवार में हूँ..!!

Dard Bhari Shayari

एक पल में ज़िन्दगी भर की उदासी दे गया;
वो जुदा होते हुए कुछ फूल बासी दे गया;
नोच कर शाखों के तन से खुश्क पत्तों का लिबास;
ज़र्द मौसम बाँझ रुत को बे-लिबासी दे गया।

Bewafa Dard Bhari Shayari

नफरत करोगे तो भी आउंगा तेरे पास,
देख तेरे बगैर रहने की आदत नहीं मुझे..!!

Dard Bhari Shayari, Zindagi Dard Bhari Shayari

“हर पल दिल को बहला लेता हूँ,
तन्हाई में खुद को ही दोस्त बना लेता हूँ,
याद उनको करके मुस्कुरा लेता हूँ,
गुजरे लम्हों को फिर करीब बुला लेता हूँ.”

Zindagi Dard Bhari Shayari

मत पूछा करो रात भर जागने की वजह हटें,
मोहब्बत मैं कुछ सवालों के जवाब नहीं होते..!!

Dard Bhari Shayari, Zindagi Dard Bhari Shayari

“दर्द होता नही दुनियाँ को दिखाने के लिए,
हर कोई रोता नही आँसू बहाने के लिए,
रूठने का मज़ा तो तब आता हैं दोस्तों…,
जब अपना हो कोई मनाने के लिए….”

रह रह के मुझे इतना रुलाते क्यूँ हो,
याद कर नही सकते तो याद आते क्यूँ हो..!!

हम नहीं करते इश्क़ से इश्क़ तो हमारा पेशा है,
वो इश्क़ ही गया जिस मैं यार बेवफा है..!!

Zindagi Dard Bhari Shayari

Zindagi Dard Bhari Shayari

“हम अपना दर्द किसी को कहते नही,
वो सोचते हैं की हम तन्हाई सहते नही,
आँखों से आँसू निकले भी तो कैसे,
क्योकि सूखे हुवे दरिया कभी बहते नही.”

कौन कहता है नफ़रतों मैं दर्द होता है,
कुछ मोहब्बत बड़ी कमाल की होती है..!!

ग़म के दरियाओं से मिलकर बना है यह सागर;
आप क्यों इसमें समाने की कोशिश करते हो;
कुछ नहीं है और इस जीवन में दर्द के सिवा;
आप क्यों इस ज़िंदगी में आने की कोशिश करते हो।

Bewafa Dard Bhari Shayari

करने लगे जब शिकवा उससे उसकी बेवफाई का,
रख कर होंट को होंट से खामोश कर दिया..!!

साँस थम जाती है पर जान नहीं जाती;
दर्द होता है पर आवाज़ नहीं आती;
अजीब लोग हैं इस ज़माने में ऐ दोस्त;
कोई भूल नहीं पाता और किसी को याद नहीं आती।

हम भी फूलों की तरह अक्सर तनह रहते है,
कभी टूट जाते है तो कभी कोई तोड़ देता है..!!

Dard Bhari Shayari

“जिंदगी के रंग कितने निराले हैं,
साथ देने वाला हर कोई है लेकिन हम अकेले हैं,
पानी है मंजिल हमें मगर रास्तों में रुकावटे हैं,
खुशियों में सब साथ हैं, गमों में सब पराये हैं.”

Zindagi Dard Bhari Shayari

बहुत आसाँ है इश्क़ में हार के खुदखुशी कर लेना,
कितना मुश्किल है जीना, ये हमसे पूछ लेना..!!

“जिंदगी देने वाले,मरता छोड़ गये,
अपनापन जताने वाले तन्हा छोड़ गये,
जब पड़ी जरूरत हमें अपने हमसफर की,
वो जो साथ चलने वाले, रास्ता मोड़ गये.”

ख़ुशी तो तकदीर में होनी चाहिए,
तस्वीरों में तो हर कोई खुश नज़र आता है..!!

“गुनाह करके सज़ा से डरते हैं,
जहर पी के दवा से डरते हैं,
दुश्मनों के सितम का खौफ नहीं,
हम तो दोस्तों की वफ़ा से डरते हैं.”

और इतनी भी उदासी किस काम की,
थोड़ा इश्क़ करलो वरना जिंदगी किस काम की..!!

Zindagi Dard Bhari Shayari

“ना पूछ मेरे सब्र की इंतेहा कहाँ तक हैं,
तू सितम कर ले, तेरी हसरत जहाँ तक हैं,
वफ़ा की उम्मीद, जिन्हें होगी उन्हें होगी,
हमें तो देखना है, तू बेवफ़ा कहाँ तक हैं.”

हम बने ही थे तबाह होने के लिए,
तेरा छोड़ जाना तो महज़ इक बहाना था..!!

“दिल को हमसे चुराया आपने,
दूर होकर भी अपना बनाया आपने,
कभी भूल नहीं पायेंगे हम आपको,
क्योंकि याद रखना भी तो सिखाया आपने.”

जिस दिल में बसा था नाम तेरा हमने वो तोड़ दिया,
न होने दिया तुझे बदनाम बस तेरे नाम लेना छोड़ दिया..!!

Dard Bhari Shayari

“तन्हाई का उसने मंज़र नहीं देखा,
अफ़सोस की मेरे दिल के अन्दर नहीं देखा,
दिल टूटने का दर्द वो क्या जाने……,
वो लम्हा उसने कभी जी कर नहीं देखा.”

ढूड ही लेता है मुझे किसी ना किसी भने से दर्द,
वाकिफ हो गया है मेरे हर ठिकाने से..!!

Bewafa Dard Bhari Shayari

“बेताब सा रहते हैं तेरी याद में अक्सर,
रात भर नहीं सोते हैं तेरी याद में अक्सर,
जिस्म में दर्द का बहाना बना के…..,
हम टूट के रोते हैं तेरी याद में अक्सर.”

कौन करता है यहाँ प्यार निभाने के लिए,
दिल तो एक खिलौना है जमाने के लिए..!!

Zindagi Dard Bhari Shayari

“आंसू से पलके भींगा लेता था,
याद तेरी आती थी तो रो लेता था,
सोचा था की भुला दूँ तुझको मगर,
हर बार ये फैसला बदल लेता था.”

कौन कहता है नफ़रतों मैं दर्द होता है,
कुछ मोहब्बत बड़ी कमाल की होती है..!!

“उनकी तस्वीर को सिने से लगा लेते हैं,
इस तरह जुदाई का गम मिटा देते हैं,
किसी तरह कभी उनका जिक्र हो जाये तो,
भींगी पलकों को हम झुका लेते हैं.”

Zindagi Dard Bhari Shayari

दुःख तब होता है जो वो इन्सान आप को इंग्नोर करे,
जिसके लिए आप ने सबको इग्नोर किया..!!

“अपने दिल को अगर दुखाना हैं,
बहारों में अगर घर जलाना हैं….,
प्यार करो एक बेवफा से,
अगर मोहब्बत को आजमाना हैं.”

पता है तकलीफ क्या है किसी को चाहना,
फिर उसे खो देना और खामूश हो जाना..!!

हादसे इंसान के संग मसखरी करने लगे,
लफ्ज कागज पर उतर जादूगरी करने लगे,
कामयाबी जिसने पाई उनके घर बस गए,
जिनके दिल टूटे वो आशिक शायरी करने लगे..!!

Zindagi Dard Bhari Shayari

जो दिल में आए वो सब करना,
बस एक गुजारिश है किसी से अधुरा प्यार मत करना..!!

रोने की सज़ा न रुलाने की सज़ा है,
ये दर्द मोहब्बत को निभाने की सज़ा है,
हँसते हैं तो आँखों से निकल आते हैं,
आँसू ये उस शख्स से दिल लगाने की सज़ा है..!!

ज़िन्दगी यु भी कम है मोहब्बत के लिए,
यु रूठ के वक़्त गुजारने की ज़रूरत किया है..!!

Dard Bhari Shayari

Article Categories:
Hindi · Shayari

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *