कल का दिन किसने देखा है

June 26, 2017
555
Views

सूरज के निकलने का वक्त हो गया है,
फूलों के खिलने का वक्त हो गया है,
नींद से जागो अब मेरे दोस्त,
सपनों को हकीकत बनाने का वक्त हो गया है !
Good Morning!

नयी सुबह की नयी शुरूआत हुई हैं
बड़ी मुश्किल से आपसे बात हुई हैं
अब फिर तुम हमे न भुला देना
कई दुआओं के बाद मुलाकात हुई हैं !
Good Morning!

आपकी हर सुबह सुहानी हो,
दुखों की सारी बातें पुरानी हो,
दे जाये ढेर सारी ख़ुशी यह दिन,
और हर ख़ुशी आपकी दीवानी हो !
Good Morning!

कल का दिन किसने देखा है,
तो आज का दिन भी खोए क्यों?
जिन घड़ियों में हंस सकते हैं,
उन घड़ियों में रोए क्यों?
Good Morning!

गुजर गई वह सितारों वाली सुनहरी रात,
आ गई याद नहीं तुम्हारी प्यारी सी बात,
अक्सर होती रहती थी हमारी मुलाकात,
बिन आपके होती है अब तो दिन की शुरुआत!!
Good Morning!

सुबह सुबह सूरज का साथ हो
गुनगुनाते परिंदों की आवाज में हाथ में चाय का कप
और यादोंमें कोई खास हो
उस खूबसूरत सुबह की पहली याद आप हो
Good Morning!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *