Love Shayari, Kisi ke liye mohabbat

Har shkhas ka alag andaz he
Kisi ke liye mohabbat kisi ke liye pap he
Aur Jab hum se puchha mohabbat kia he tumhare liye….
Hum ne kaha mohabbta ka matlab to Aap he.

हर शख्स का अलग अंदाज है
किसी के लिये मोहब्बत तो किसी के लिये पाप है
और जब हमसे पूछा मोहब्बत किया है तुम्हारे लिये….
हम ने कहा मोहब्बत का मतलब तो आप है.

Love Shayari, Kisi ke liye mohabbat

Leave a Comment